अश्विन मोटेरा में इतिहास रच सकते हैं, कोहली के पास धोनी को पीछे छोड़ने का मौका है

अश्विन मोटेरा में इतिहास रच सकते हैं, कोहली के पास धोनी को पीछे छोड़ने का मौका है

भारत और इंग्लैंड के बीच 4 मैचों की श्रृंखला का तीसरा टेस्ट बुधवार 24 फरवरी से अहमदाबाद के मोटटेरा स्टेडियम में खेला जाना है। यह मैच गुलाबी गेंद से खेला जाएगा, यानी यह दिन और रात का मैच है। यह मैच टीम इंडिया के लिए विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में जगह बनाने के लिए महत्वपूर्ण है। साथ ही यह व्यक्तिगत रूप से विराट कोहली और रविचंद्रन अश्विन के लिए भी बहुत खास है।

रविचंद्रन अश्विन ने अब तक 76 टेस्ट मैच खेले हैं। इसमें उन्होंने 394 विकेट लिए हैं। वह 400 विकेट के निशान से 6 विकेट दूर है। अगर वह तीसरे टेस्ट में 6 विकेट लेते हैं, तो 400 या अधिक विकेट लेने वाले दुनिया के 16 वें गेंदबाज और छठे स्पिनर बन जाएंगे। यही नहीं, वह सबसे कम मैच में 400 विकेट लेने वाले भारतीय भी बन जाएंगे। अभी यह रिकॉर्ड दिग्गज लेग स्पिनर अनिल कुंबले के नाम पर है। कुंबले ने अपने 85 वें टेस्ट मैच में 400 विकेट लिए थे।

कुल मिलाकर, सबसे कम टेस्ट मैच में 400 विकेट लेने वालों की सूची में उन्हें दूसरा स्थान दिया जाएगा। श्रीलंका के मुथैया मुरलीधरन इस मामले में पहले नंबर पर हैं। मुरलीधरन ने 72 वें टेस्ट मैच में अपना 400 वां विकेट लिया। इस मामले में, वर्तमान में संयुक्त रूप से नंबर दो न्यूजीलैंड के रिचर्ड हेडली और दक्षिण अफ्रीका के डेल स्टेन हैं। हेडली और स्टेन ने 80 वें मैच में 400 विकेट पूरे किए थे।

विराट कोहली ने अब तक कुल 425 अंतर्राष्ट्रीय मैच (टेस्ट, वनडे और टी 20) खेले हैं। इसमें उन्होंने 70 शतक बनाए हैं। वह सबसे ज्यादा अंतरराष्ट्रीय शतक लगाने के मामले में तीसरे नंबर पर हैं। पहले नंबर पर दिग्गज क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर हैं और दूसरे नंबर पर पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोंटिंग हैं। सचिन के नाम पर 100 अंतरराष्ट्रीय शतक हैं, जबकि पोंटिंग ने अपने करियर के दौरान 71 शतक बनाए। अगर कोहली इस मैच में शतक बनाते हैं, तो वह रिकी पोंटिंग के 71 शतकों के रिकॉर्ड के बराबर हो जाएंगे।

यही नहीं, एक कप्तान के रूप में कोहली ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 41 शतक बनाए हैं। इस मामले में, वह पहले ही रिकी पोटिंग की बराबरी कर चुके हैं। दोनों संयुक्त रूप से पहले स्थान पर रहे। अब कोहली के पास पोंटिंग से आगे निकलने का मौका है। पोंटिंग ने कप्तान के रूप में 324 अंतरराष्ट्रीय मैचों में 41 शतक बनाए थे। विराट ने 190 मैचों में 41 शतक बनाए हैं। पिछली 10 पारियों में एक बार भी कोहली तिहरे अंकों तक नहीं पहुंच सके हैं। ऐसे में उनकी कोशिश सदियों के सूखे को खत्म करने की होगी। वैसे भी उनके जैसे खिलाड़ी का बल्ला ज्यादा देर तक शांत नहीं रहता है।

धोनी का रिकॉर्ड तोड़ने पर विराट कोहली की नजर

अगर टीम इंडिया तीसरा मैच जीत जाती है, तो विराट कोहली घर पर सबसे ज्यादा टेस्ट जीतने वाले कप्तान बन जाएंगे। वह महेंद्र सिंह धोनी के रिकॉर्ड को तोड़ देंगे। वर्तमान में, धोनी और विराट की घरेलू मैदान पर 21-21 टेस्ट जीत है। इस मामले में मोहम्मद अजहरुद्दीन (13 टेस्ट जीत) दूसरे, सौरव गांगुली (10 टेस्ट जीत) तीसरे और सुनील गावस्कर (7 टेस्ट जीत) चौथे स्थान पर हैं।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Releated

दिल्ली का पहला डिजिटल बजट प्रस्तुत, विषय है - देशभक्ति पर

दिल्ली का पहला डिजिटल बजट प्रस्तुत, विषय है – देशभक्ति पर

दिल्ली बजट 2021: दिल्ली के उपमुख्यमंत्री और वित्त मंत्री मनीष सिसोदिया ने मंगलवार को दिल्ली विधानसभा में वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए 69,000 करोड़ रुपये का बजट पेश किया। अपने हाथ में लाल कवर टैब के साथ, सिसोदिया ने इस टैब से बजट भाषण पढ़ा। सिसोदिया ने इस दौरान कहा- दिल्ली सरकार ने 75 वां […]

महा शिवरात्रि पूजा २०२१ तिथि, पूजा विधान: ११ मार्च को महा शिवरात्रि पर्व, जानिए कैसे करें शिव की पूजा और क्या है विधि

महा शिवरात्रि पूजा २०२१ तिथि, पूजा विधान: ११ मार्च को महा शिवरात्रि पर्व, जानिए कैसे करें शिव की पूजा और क्या है विधि

महा शिवरात्रि 2021 भारत में तिथि, पूजा विधान, मुहूर्त: पंचांग के अनुसार, महाशिवरात्रि का दिन बहुत ही खास होता है। इस दिन भगवान शिव की विशेष पूजा अर्चना की जाती है। वैसे तो शिवरात्रि हर महीने आती है, लेकिन फाल्गुन माह की चतुर्दशी को आने वाली महाशिवरात्रि के लिए विशेष महत्व माना जाता है। महाशिवरात्रि […]