धवन फिर से फ्लॉप रहे, केकेआर के बल्लेबाज ने दिल्ली की लाज बचाई, ओपन टीम का खाता

धवन फिर से फ्लॉप रहे, केकेआर के बल्लेबाज ने दिल्ली की लाज बचाई, ओपन टीम का खाता

विजय हजारे ट्रॉफी: भारतीय क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन की खराब फॉर्म विजय हजारे ट्रॉफी 2020-21 में जारी है। वह टूर्नामेंट में लगातार दूसरे मैच में दोहरे अंक को नहीं छू सके। हालांकि, टीम के दूसरे सलामी बल्लेबाज ध्रुव शौरी और इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में कोलकाता नाइट राइडर्स का हिस्सा नीतीश राणा ने दिल्ली की महिमा को बचाया।

एलीट ग्रुप डी मैच में मंगलवार 23 फरवरी को, दिल्ली ने पुदुचेरी को उनके शतक के आधार पर 179 रन से हराया। यह टूर्नामेंट में दिल्ली की पहली जीत है। जयपुर के जयपुरिया विद्यालय मैदान में खेले गए मैच में पुडुचेरी ने टॉस जीता और गेंदबाजी करने का फैसला किया। उनका यह फैसला सही साबित हुआ जब पहले बल्लेबाजी करने उतरी दिल्ली ने 5.5 ओवर में 2 विकेट गंवा दिए। उस समय टीम के खाते में केवल 25 रन ही जुड़े थे। शिखर धवन 6 रन बनाकर सागर त्रिवेदी की गेंद पर पी डोगरा को कैच दे बैठे। धवन मुंबई के खिलाफ मैच में खाता भी नहीं खोल सके।

तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए हिम्मत सिंह को सागर त्रिवेदी ने भी बोल्ड किया। हिम्मत खाता भी नहीं खोल सका। डेयर के आउट होने के बाद नीतीश राणा क्रीज पर आए। इसके बाद, ध्रुव और नीतीश ने दूसरे विकेट के लिए 255 रनों की साझेदारी की। नितीश राणा ने 106 गेंदों पर 21 चौकों और एक छक्के की मदद से 137 रन बनाए। ध्रुव ने 142 गेंदों में 13 चौकों और 3 छक्कों की मदद से 132 रन बनाए।

43 वें ओवर की तीसरी गेंद पर सागर उदिशी ने पुडुचेरी की तीसरी सफलता हासिल की। उन्होंने ध्रुव शोरे को अपना शिकार बनाया। अगले ओवर की पांचवीं गेंद पर पंकज सिंह को नीतीश राणा ने पवेलियन भेजा। जब नीतीश पवेलियन लौटे तो दिल्ली का स्कोर 43.5 ओवर में 4 विकेट पर 288 रन था। इसके बाद, क्षितिज शर्मा और ललित यादव ने पांचवें विकेट के लिए 66 रनों की नाबाद साझेदारी की। क्षितिज ने 20 गेंदों पर 27 और ललित ने 21 गेंदों में 33 रन बनाए और दिल्ली का स्कोर 50 ओवर में 4 विकेट पर 354 रन तक पहुंचाया।

लक्ष्य का पीछा करने के लिए पुडुचेरी की टीम ने अच्छी शुरुआत की। उन्होंने 37 गेंदों में 43 रन बनाए। सलामी बल्लेबाज और कप्तान दामोदरन रोहित 38 गेंदों पर 26 रन बनाकर आउट हुए। कप्तान प्रदीप सांगवान ने उन्हें पवेलियन का रास्ता दिखाया। इसके बाद पुडुचेरी के नियमित अंतराल पर विकेट गिरते रहे और पूरी टीम 39.3 ओवर में 175 रन पर आउट हो गई।

कुलवंत खुजरोलिया दिल्ली के सबसे सफल गेंदबाज थे। उन्होंने 32 रन देकर 4 विकेट लिए। प्रदीप और सिमरनजीत सिंह के खाते में 2-2 विकेट आए। शिवांश वशिष्ठ और ललित यादव ने भी एक-एक विकेट लिया। पुदुचेरी की यह लगातार दूसरी हार है। पहले मैच में उसे राजस्थान ने 8 विकेट से हराया था।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Releated

महा शिवरात्रि पूजा २०२१ तिथि, पूजा विधान: ११ मार्च को महा शिवरात्रि पर्व, जानिए कैसे करें शिव की पूजा और क्या है विधि

महा शिवरात्रि पूजा २०२१ तिथि, पूजा विधान: ११ मार्च को महा शिवरात्रि पर्व, जानिए कैसे करें शिव की पूजा और क्या है विधि

महा शिवरात्रि 2021 भारत में तिथि, पूजा विधान, मुहूर्त: पंचांग के अनुसार, महाशिवरात्रि का दिन बहुत ही खास होता है। इस दिन भगवान शिव की विशेष पूजा अर्चना की जाती है। वैसे तो शिवरात्रि हर महीने आती है, लेकिन फाल्गुन माह की चतुर्दशी को आने वाली महाशिवरात्रि के लिए विशेष महत्व माना जाता है। महाशिवरात्रि […]

5 साल में सरकारी भर्ती में कमी!  UPSC ने इस साल 10% पदों को कम किया

5 साल में सरकारी भर्ती में कमी! UPSC ने इस साल 10% पदों को कम किया

लोग UPSC के माध्यम से चयनित होकर सरकारी नौकरी पाने का सपना देखते हैं, लेकिन सरकार अब सिविल सेवा परीक्षा (CSE) के माध्यम से भर्तियों को कम कर रही है। संघ लोक सेवा आयोग ने पिछले सप्ताह 712 पदों के लिए अधिसूचना जारी की है। पिछले साल 796 पद खाली थे। इस हिसाब से 10 […]