अधिक अखरोट खाना भी खतरनाक हो सकता है, जानिए कितना और कब खाना चाहिए

अधिक अखरोट खाना भी खतरनाक हो सकता है, जानिए कितना और कब खाना चाहिए

स्वास्थ्य के लिए अखरोट: अखरोट को पागल की श्रेणी में शामिल किया गया है। सर्दियों में इसकी बिक्री आम तौर पर बढ़ जाती है। अखरोट में कई प्रोटीन, विटामिन, वसा और खनिज होते हैं जो शरीर को पोषण प्रदान करने में प्रभावी होते हैं। इसके अलावा, अखरोट को एंटी-ऑक्सीडेंट और पॉलीअनसेचुरेटेड फैटी एसिड का भंडार माना जाता है। ये सभी तत्व शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। हालांकि, किसी भी चीज का अति प्रयोग स्वास्थ्य को नकारात्मक रूप से प्रभावित कर सकता है। बेशक अखरोट को सूखे मेवों का राजा कहा जाता है। लेकिन इसे नियमित मात्रा में खाने से ही फायदा होगा, आइए जानते हैं –

अखरोट खाने के क्या फायदे हैं: स्वास्थ्य विशेषज्ञों का मानना ​​है कि नियमित रूप से भीगे हुए अखरोट खाने से टाइप -2 डायबिटीज का खतरा कम हो सकता है। उनके अनुसार, इसका सेवन करने के लिए मुट्ठी भर अखरोट को रात भर पानी में भिगोना चाहिए। सुबह पानी निकालने के बाद खाली पेट अखरोट का सेवन करने से मधुमेह का खतरा भी कम हो सकता है। यह फाइबर से भरपूर होता है जो पाचन की प्रक्रिया को आसान बनाता है। वहीं, रोजाना अखरोट का सेवन करने से इम्युनिटी मजबूत होती है।

बहुत अधिक अखरोट खाने के नुकसान: स्वास्थ्य विशेषज्ञों का मानना ​​है कि अखरोट में अधिक कैलोरी पाई जाती है, इसलिए सीमित मात्रा में इसका सेवन फायदेमंद होता है। इसके अधिक सेवन से वजन पर संतुलन बनाए रखना मुश्किल होता है। वहीं, अधिक अखरोट खाने से डायरिया या पेट की समस्या हो सकती है। इस सूखे फल की तासीर गर्म होती है जिसके कारण मुंह में छाले या घाव होने की संभावना बढ़ जाती है। इसके साथ ही कफ होने पर भी इसके सेवन से बचने की सलाह दी जाती है। इसके अलावा, कुछ लोगों को अखरोट से एलर्जी होती है।

खाने से कितना फायदा होगा: हालाँकि अखरोट के कई स्वास्थ्य संबंधी फायदे हैं, लेकिन सीमित मात्रा में इनका सेवन फायदेमंद है। अधिक अखरोट खाने से पेट की गर्मी होती है और इसके कई नुकसान भी होते हैं। इसलिए, विशेषज्ञों के अनुसार, पूरे दिन में 5 से अधिक अखरोट नहीं खाने चाहिए। वहीं, सामान्य दिनों में 2-3 अखरोट खाना फायदेमंद हो सकता है।

अखरोट खाने का समय क्या है: स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार, अन्य नट्स की तरह खाली पेट अखरोट का सेवन न करें। क्योंकि इसमें मौजूद तेल पेट में जलन कर सकता है। इसे सुबह नाश्ते के साथ या शाम को नाश्ते के रूप में खाना बेहतर होता है।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Releated

पहले मजाक फिर नजीर

पहले मजाक फिर नजीर

चीन के साथ भारत का संबंध इन दिनों कई कारणों से विवादित है। इस कारण से, हमारे देश के इस पड़ोसी को देखने का हमारा दृष्टिकोण भी तेजी से बदल गया है। कोविद -19 ने बड़ा बदलाव किया है, खासकर चीन की ओर। दिलचस्प बात यह है कि भारत इस देश के प्रति अपनी राय […]

कांग्रेस के प्रवक्ता अब्बास सिद्दीकी के खिलाफ 23 दिग्गजों ने किया हंगामा

कांग्रेस के प्रवक्ता अब्बास सिद्दीकी के खिलाफ 23 दिग्गजों ने किया हंगामा

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में भारतीय सेक्युलर मोर्चा (ISF) के साथ कांग्रेस के जाते ही विवाद बढ़ता जा रहा है। राजनीतिक विशेषज्ञ भी इस बात से हैरान हैं। कई लोगों का कहना है कि कांग्रेस पार्टी को लगता है कि आईएसएफ के साथ जाने से मुस्लिम वोट मिलेंगे। हालांकि, पार्टी के भीतर भी मतभेद हैं। […]